• Welcome, Visitor. You can Login or Create an Account

Blog in Details

एक टेस्ट पारी में बाउंड्री (चौके-छक्के) के सहारे सबसे ज्यादा रन बटोरने की बात करें, तो 55 साल पुराना रिकॉर्ड सामने आता है. आज ही के दिन (9 जुलाई) यह कीर्तिमान बना था.

  • चौके-छक्के से पारी में सर्वाधिक रन जुटाए
  • इंग्लैंड के एडरिच का 1965 में ये कारनामा

क्रिकेट की पिच पर जब कोई बल्लेबाज हावी होता है, तो चौके-छक्के की बौछार कर देता है. सीमा पार जाती गेंदों को देख दर्शक जहां रोमांचित हो उठते हैं, वहीं गेंदबाज अपना सिर पकड़ने के अलावा कुछ नहीं कर पाता है. एक टेस्ट पारी में बाउंड्री (चौके-छक्के) के सहारे सबसे ज्यादा रन बटोरने की बात करें, तो 55 साल पुराना रिकॉर्ड सामने आता है. आज ही के दिन (9 जुलाई) यह कीर्तिमान बना था.

इंग्लैंड के बाएं हाथ के सलामी बल्लेबाज जॉन एडरिच के नाम ऐसा रिकॉर्ड है, जो आज भी बरकरार है. वह एक पारी में बाउंड्री से सर्वाधिक रन बटोरने का अनोखा रिकॉर्ड रखते हैं. एडरिच ने न्यूजीलैंड के खिलाफ लीड्स टेस्ट (8-13 जुलाई 1965) में नाबाद 310 रनों की अविश्वसनीय पारी खेली थी. इस पारी के दौरान उन्होंने 52 चौके और 5 छक्के जमाए थे. उन्होंने अपने इस तिहरे शतक में 238 रन चौके और छक्के से जुटाए, यानी पारी में 77% रन बाउंड्री के सहारे आए.

सिर्फ चौके की बात करें, तो एक पारी में सबसे ज्यादा चौके का रिकॉर्ड भी जॉन एडरिच के नाम है. एडरिच के अलावा कोई और बल्लेबाज अपनी पारी में 50 चौके नहीं लगा पाया है. एडिरच ने 52 चौके जमाए. 1965 के लीड्स टेस्ट में उन्होंने सर डॉन ब्रैडमैन का रिकॉर्ड तोड़ा था, उन्होंने 1930 इसी मैदान पर (इंग्लैंड के खिलाफ) 334 रनों की पारी में 46 चौके लगाए थे.


टेस्ट की एक पारी में सर्वाधिक चौके

1. जॉन एडरिच (इंग्लैंड)- 52 चौके, 5 छक्के (310*), लीड्स, विरुद्ध न्यूजीलैंड- 1965)

2. वीरेंद्र सहवाग (भारत)- 47 चौके, 1 छक्का (254) लाहौर, विरुद्ध पाकिस्तान- 2006)

3. डॉन ब्रैडमैन (ऑस्ट्रेलिया)- 46 चौके (334), लीड्स, विरुद्ध इंग्लैंड- 1930)

4. ब्रायन लारा (वेस्टइंडीज)- 45 चौके (375), सेंट जोंस, विरुद्ध इंग्लैंड- 1994)

5. वीवीएस लक्ष्मण (भारत)- 44 चौके (281), कोलकाता, विरुद्ध ऑस्ट्रेलिया- 2001)

मजे की बात है कि टीम इंडिया के पूर्व विस्फोटक सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग 2006 में एडरिच के इस रिकॉर्ड को तोड़ने से चूक गए थे. पाकिस्तान के खिलाफ लाहौर टेस्ट में 254 रनों की धुआंधार पारी (247 गेंदों में) में उन्होंने 47 चौके (और एक छक्का) जमाए थे. यानी वह पांच चौके और लगा पाते, तो इस रिकॉर्ड की बराबरी कर लेते.

83 साल के हो चुके जॉन एडरिच ने अपने करियर में 77 टेस्ट मैचों में इंग्लैंड का प्रतिनिधित्व किया. उन्होंने 43.54 की औसत से 5138 रन बनाए. टेस्ट में 12 शतक और 24 शतक उनके नाम हैं. प्रथम श्रेणी क्रिकेट में उन्होंने कुल 103 शतक और 188 अर्धशतक जमाए.

Admin Photo

Welcome, we are pleased to your visit.

Jupiter Cric.Author

Comments

Post A Comment

Note:- Maximum 250 characters allowed for heading.

Please wait.

Subscribe Our Monthly Newsletter

Please wait.
*Note:- It's not a betting site. We only gives you result with our 10 years of experience.